Category "Moral Stories"

1May2022

 बाल कहानी – सच्ची दोस्ती :  एक जंगल के किनारे एक गांव था। एक दिन उस जंगल से निकलकर एक बन्दर गांव में आ गया। वहां उसे एक झोपड़ी में रोटी पकने की सुगंध आई तो वो अंदर झांकने लगा। अंदर एक औरत रोटी पका रही थी और एक बच्चा खाना खा रहा था। बच्चे की नजर खिड़की पर गई तो उसे  बन्दर दिखाई दिया। बच्चे ने मां से एक रोटी  ली और बंदर को डाल दिया। बन्दर रोटी खाकर चला गया। अगले दिन वो फिर से आ गया। कुछ ही दिनों में बन्दर की दोस्ती बच्चे से हो गई।

16Apr2022

आज का युग इलेक्ट्रॉनिक्स युग है।  घर के अंदर हो या बाहर, इस मॉडर्न युग में हम इलेक्ट्रॉनिक्स प्रोडक़्स का इस्तमाल हर रोज करते है। उदाहरण के तौर पर हमारे जीवन में रोजमर्रा इस्तमाल में आने वाली चीज़ है कंप्यूटर, स्मार्टफोन, टैबलेट। यह इलेक्ट्रॉनिक्स डिवाइसेस हमारे लिए बहुत उपयोगी जरूर है। लेकिन अगर इन डिवाइसेस का गलत इस्तेमाल किया जाए तो कई बार हमारा बहुत नुक़सान भी हो सकता है।

28Mar2022

बाल कहानी – ख्याली पुलाव : एक गांव में एक चरवाहा रहता था। वो सुबह से शाम तक मेहनत करके  अपने परिवार का पेट पालता था। उसका एक बेटा था जो बहुत ही आलसी था। चरवाहे ने उसे गाँव के एक स्कूल में दाखिल करवा दिया था ताकि वो पढ़ लिखकर बड़ा आदमी बन सके लेकिन बच्चे का मन पढ़ने लिखने में नहीं लगता था। वो  स्कूल जाने के बहाने इधर उधर घूमता रहता था। एक दिन रास्ते में उसे एक दूधवाला दूध बेचता दिखाई दिया। उसने दूधवाले से पूछा, “भैया तुमने कभी पढ़ाई की है?”

21Mar2022

बाल कहानी : खुशियों की हरियाली – एक बगीचे में एक आम का पेड़ था, उसमें खूब  मीठे मीठे आम लगते थे, एक दिन एक गरीब  बच्चा उस पेड़ के नीचे बैठ कर रोने लगा, आम के पेड़ ने बच्चे से पूछा,”बेटा तुम रो क्यों रहे हो?” बच्चे ने कहा ,”मुझे भूख लगी है।” बच्चे की बात सुनकर पेड़ ने कहा, “तुम रोना बंद करो, और मेरे मीठे आम तोड़ कर खा लो।”

16Mar2022

प्रेरक कहानी : साधू की सीख :- एक जंगल में एक विशाल नाग रहता था, वो बड़ा गुस्से वाला था और छोटी छोटी बात पर सबको काटने दौड़ता था। इस कारण  जंगल के सारे पशु पक्षी उससे दूर रहते थे। एक दिन जब नाग नदी किनारे सो रहा था तो एक बन्दर के बच्चे ने शोर मचाकर उसकी नींद तोड़ दी। नाग की नींद टूट गई तो गुस्से में उसने बन्दर के बच्चे को पकड़ लिया। बन्दर जोर जोर से रोने लगा, तो बन्दर की मां ने नागराज से विनती की कि वो बच्चे को छोड़ दें, लेकिन गुस्से से भरा नाग तैयार नहीं हुआ।

14Mar2022

शिक्षाप्रद कहानी : अपनी बुद्धि अपनी समझ :- एक देश का राजा अपने को बहुत दानवीर मानता था। वो अक्सर तरह तरह के खेल आयोजित करता, और जीतने वाले को इनाम देता था।राजा के दरबार में एक बुद्धिमान मंत्री भी था। एक बार, राजा ने ढिंढोरा पिटवाया कि जो इंसान इस कड़ाके की ठंड में, रात भर तालाब के पानी में खड़ा रहेगा उसे पुरस्कार दिया जाएगा । बहुत से लोगों ने इस प्रतियोगिता में भाग लेने की कोशिश की, लेकिन तालाब के ठंडे पानी में रात भर, गले तक डूबकर खड़े रहने की हिम्मत किसी में नहीं हुई।

9Mar2022

जंगल की कहानी  (Jungle Story) दुष्ट दोस्त की दोस्ती :- एक जंगल में एक लोमड़ी रहती थी। वो बहुत ही दुष्ट और स्वार्थी स्वभाव की थी। इसलिये जंगल के सब पशु पक्षी उससे दूर ही रहते थे। आखिर अकेले रहते रहते एक दिन लोमड़ी ऊब गई। उसने देखा कि जंगल के सभी पशु पक्षी एक दूसरे के साथ मिलजुल कर खेलते कूदते और खुश रहते हैं। लोमड़ी के मन में आया कि अगर उसका भी कोई दोस्त होता तो वह भी उसके साथ दिन भर खेलती और बातें करती।

22Feb2022

लोटपोट की कहानी : कामचोरी और चालाकी- एक व्यापारी के अस्तबल में एक घोड़ा और एक गधा साथ रहते थे। व्यापारी रोज घोड़े पर सवार होकर अपनी दुकान पर जाता था लेकिन  गधे की सवारी वो सिर्फ तब करता था जब उसे कोई भारी माल ढोकर शहर बेचने जाना पड़ता था।

15Feb2022

खुशियां कैसे बाँटी जाएँ? : बारिश के दिन थे और शाम के वक्त दो दोस्त अपने दफ्तर से लौट रहे थे। अचानक, फटे कपड़ों में एक बूढ़ा आदमी अपने काँपते हाथों से हरी सब्जियों के थैले लेकर उनके पास आया।

12Feb2022

लोटपोट की कहानी का पिटारा : राजू और सच की जीत :- ग्यारह बजकर दस मिनट हो चुके थे। तेज कदमों से चलते हुए राजू की नजर ज्यों ही घड़ी पर पड़ी, उसने यकायक हड़बड़ाकर भागना शुरू कर दिया। ठीक सवा ग्यारह बजे उसने हाँफते हुए स्कूल में प्रवेश किया। कुछ ही पल बाद वह अपनी कक्षा के दरवाजे पर खड़ा था। कक्षा में गणित के अध्यापक श्री सक्सेना जी छात्रों को पढ़ा रहे थे।