Category "Travel"

3Feb2022

खोंसा अरुणाचल प्रदेश के तिराप जिले में स्थित एक छोटा सा हिल स्टेशन है। इसके उत्तर में म्यांमार है तो दक्षिण में नागालैंड असम हैं। यह नेक्टे और वानचु जनजातियों की निवासस्थली है।

11Dec2021

विरासत-ए-खालसा: घूमना फिरना किसे अच्छा नहीं लगता, लेकिन घूमने-फिरने की बात आए तो मन में सिर्फ पहाड़, झरने ही आते हैं या फिर पुराने इमारतें, जिन्हें देखकर वहां की कहानियाँ याद आती हैं। बचपन में अतिहास की किताबों के जरएि उन्हें अपने जेहन में उतारा था। ऐसे ही इतिहास के पन्नों पर उकेरी गई खालसा पंथ की इमारत को विरासत के रूप में संयोजा गया है। विरासत-ए-खालसा में।

25Nov2021

भारतीय रेलवे के 160 वर्षों का अन्वेषण संग्रहालय के ऐतिहासिक चित्रों, दस्तावेजों, रेलवे की कलाकृतियों, और ट्रेन माॅडल के साथ करें। प्रत्येक प्रदर्शन के बगल में एक सूचना टैबलेट एक शैक्षिक और आकर्षक यात्रा सुनिश्चित करता है।

6Sep2021

द गिफ्ट ऑफ द जंगल- यह कितना प्यारा शीर्षक है! यह उपाधि कोडाईकनाल (Kodaikanal) के अलावा और किसी के लिए नहीं है। कोडाईकनाल एक तमिल शब्द है और इसका अर्थ है ‘द गिफ्ट ऑफ द फाॅरेस्ट’। कोडाईकनाल की सुंदरता अवर्णनीय है

31Mar2021

कल्गा (Kalga) जाने वाले मुट्ठी भर यात्री शायद प्रमुख कारण है, जो अपरंपरागत स्वाद की चाह रखने वालों के लिए एक शीर्ष स्थान बना हुआ है। हिमाचल प्रदेश के कसोल के पास बरशैणी की बसावट से परे, छोटा कल्गा गांव उन लोगों के लिए उम्दा जगह हैं जो पहाड़,शांति और धूप की तलाश में रहते है।

3Mar2021

India Travel : श्रीनगर पौड़ी गढ़वाल पर्यटकों को खूबसूरत नजारे देखने का मौका देता है। अगर आप प्राकृतिक के दीवाने है और हिमालय की खूबसूरती को खोजना चाहते है तो इस क्षेत्र में जरूर जायें। इस जगह में आपको हिमालय पर्वत के खूबसूरत नजारों के साथ साथ खूबसूरत घाटी भी देखने को मिलेगी। जिन लोगों को रोमांच पसंद हैं, उन्हें यहाँ पर ट्रैकिंग और राफ्टिंग करने का मौका मिल जायेगा।

28Jan2021

Travel : आओ करें लक्षद्वीप की यात्रा | लक्षद्वीप का संस्कृत में मतलब हजारों द्वीप है और यह भारत के दक्षिण-पश्चिम में हिंद महासागर में स्थित एक भारतीय द्वीप-समूह है। इसकी राजधानी कवरत्ती है। लक्षद्वीप द्वीप-समूह में कुल 36 द्वीप है, जो पूरे विश्व में अपनी खूबसूरती के लिए जाने जाते है।

28Nov2020

प्रकृति ने हिमाचल प्रदेश को कई गर्म पानी के सोते से नवाजा है। गर्म पानी के सोते अपनी औषधीय फायदों की वजह से काफी मशहूर हो गए है। यह सोते ज्यादातर ब्यास और सतलुज घाटी के पास स्थित है। इनमें से एक मणिकरण में है।

13Oct2020

गुलमर्ग ( Gulmarg) यानी फूलों की चारागाह को उसका नाम 16वी शताब्दी में चाक वंश के सुल्तान युसूफ शाह ने दिया था। गुलमर्ग करोड़ों पर्यटकों को अपनी खूबसूरती की तरफ खींचता है। बाॅलीवुड की कई फिल्मों की शूटिंग भी इस खूबसूरत जगह पर की जा चुकी है। 2650 मीटर की ऊंचाई पर स्थित गुलमर्ग पीरपंजल की बर्फ से ढकी चोटियों से घिरा हुआ है। फूलों का चारागाह और अल्पाइन जंगल इसमें और रंग भरता है।

14Sep2020

Travel : मेहरानगढ़ किला अपनी खूबसूरत बनावट के लिए जाना जाता है लेकिन इस किले के साथ कुछ इतिहास भी जुड़ा है, जो ज्यादातर लोगों को नहीं पता।