Posts Tagged "Bal kahani"

21Mar2022

बाल कहानी : खुशियों की हरियाली – एक बगीचे में एक आम का पेड़ था, उसमें खूब  मीठे मीठे आम लगते थे, एक दिन एक गरीब  बच्चा उस पेड़ के नीचे बैठ कर रोने लगा, आम के पेड़ ने बच्चे से पूछा,”बेटा तुम रो क्यों रहे हो?” बच्चे ने कहा ,”मुझे भूख लगी है।” बच्चे की बात सुनकर पेड़ ने कहा, “तुम रोना बंद करो, और मेरे मीठे आम तोड़ कर खा लो।”

10Feb2022

जंगल कहानी : पल्टू सियार का धोखा और मोनू भालू की माफ़ी :- सुजान वन में मोनू भालू और पिल्टू सियार दोनों की साईकिल की मरम्मत की दुकान थी। दोनों साईकिल के पंचर वगैरह बनाते थे। दोनों की दुकाने लगभग आधा किलोमीटर की दूरी पर थीं।

दोनों के एक काम होने के बावजूद मोनू भालू के घर की स्थिति अच्छी नहीं थी। कभी-कभी दिनभर में एक भी पंचर ठीक करने को नहीं मिल पता था। इससे उसे अत्यन्त आर्थिक कठिनाई का सामना करना पड़ता था।

9Feb2022

शिक्षाप्रद बाल कहानी: माँ को रवि की आदतें बिल्कुल पसंद नहीं थी। वह हमेशा उससे नाराज रहती। पिताजी भी रवि को बार-बार समझाते। परन्तु रवि पर किसी की बातों का असर नहीं होता था। रवि बहुत जिद्दी और शरारती था। उस दिन सवेरे सात बजे तक रवि सोता रहा। मां उसे बार-बार जगाती रही। लेकिन रवि नहीं उठा।

6Jan2022

बाल कहानी : मेहनत की रोटी का रहस्य  :- ‘रामनगर में असामाजिक तत्वों के क्रियाकलाप बढ़ रहे थे। चोरी, डकैती व अपहरण की घटनाएं लगातार हो रही थी। लोग परेशान थे। रामनगर के राजा के पास तक इसकी सूचना काफी देर में पहुँची।

4Jan2022

LOTPOT के पिटारे से एक अच्छी कहानी : बचत का महत्व:- किसी शहर में माधव और राधे नाम के दो व्यापारी रहते थे। दोनों में गहरी मित्रता थी। दोनों का व्यापार अच्छा चल रहा था। दोनों में बहुत कुछ समानता थी।

27Dec2021

बाल कहानी : कोशिश करने वालों की हार नहीं होती  :- एक बादाम के पेड़ पर दो गिलहरियाँ रहती थी। दोनों की पक्की दोस्ती थी। उनमें से एक गिलहरी बड़ी चुस्त और दूसरी आलसी थी। एक दिन दोनों गांव की सैर करने सुबह सवेरे निकल पड़े।

8Nov2021

अच्छी कहानी  : एक बार की बात है कि एक चिड़िया की एक कौए से दोस्ती हो गई। एक दिन वह दोनों खाने की तलाश में थे। कौए ने देखा कि, चटाई पर कुछ मिर्चे सूखने के लिए फैलाई हुई है। कौए ने चिड़िया से कहा- वह देख, वह सामने मिर्च हैं। आओ देखें, कौन ज्यादा खा सकता है?

3Nov2021

Jungle Story : एक था चिड़ा और एक चिड़ी। दोनों ही विनम्र और मृदु। दोनों ही चहकते रहते। दूसरों की दुख तकलीफ में मद्दगार होते। इसीलिए तो टुइया जंगल के सभी पक्षी उन्हें चाहते बहुत थे।

27Oct2021

राजा वीरभद्र सिंह के दरबार में एक दरबारी था चन्द्रपाल। वह बहुत ही मक्कार था। उसने राजा पर इस बात का सिक्का जमा रखा था कि वह तलवारों का कुशल पारखी है। उनके गुण दोषों में भेद करना जानता है। चन्द्रपाल के इसी गुण से प्रभावित होकर राजा ने उसे अपने दरबार में नौकरी दी थी।

20Sep2021

Detective children’s story: इस्पेक्टर हंसराज जैसे ही पुलिस स्टेशन पर पहुँचे तो उन्हें फोन आया कि जौहरी बाजार में सेठ हीरालाल की हत्या हो गई।

सूचना मिलते ही पुलिस इंस्पेक्टर अपने दलबल के साथ वारदात वाले स्थान पर पहुँच गए। किन्तु हत्यारों ने इतनी सफाई और चालाकी के साथ सेठजी की हत्या की कि उन्होंने वहाँ अपना कोई सुराग नहीं छोड़ा। अपने साथ वे लाखों रूपयों के हीरे जवाहरात भी ले गए।