Sachin Tendulkar ने क्रिकेट खिलाड़ी ब्रैड हॉग से जो वादा किया वो निभाया

विश्वप्रसिद्ध महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) भारत के गौरव हैं। ये वो लोकप्रिय खिलाड़ी हैं जिनके प्रशंसक हर देश में करोडों की संख्या में है। सबसे दिलचस्प बात यह है कि दुनिया के महान से महान खिलाड़ी भी सचिन के क्रिकेट खेल कौशल के सामने नतमस्तक हो जाते हैं। बहुत बार ऐसा भी देखा गया है कि दुनिया के कई नामचीन क्रिकेट खिलाडियों के मन में एक सपना रहता है कि वो जीवन में एक बार सचिन को क्लीन बोल्ड कर दे।

ऐसा ही एक किस्सा हुआ था 2007 में। उन दिनों ऑस्ट्रेलिया की क्रिकेट टीम, भारत टूर पर आए हुए थे और हैदराबाद स्थित राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में, पाँच अक्टूबर को वनडे सीरीज का तीसरा मैच खेला जा रहा था। उस मैच में सचिन तेंदुलकर, गौतम गंभीर के साथ पारी की शुरुआत कर रहे थे।

भारत को जीत के लिए 291 रन का लक्ष्य मिला था। खेल जमने लगा था कि तभी ब्रैड हॉग ने 27 वें ओवर में सचिन को बोल्ड कर दिया। हॉग की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। उनके लिए सचिन को बोल्ड करना बहुत बड़ी बात थी। वो सचिन के फैन भी थे । मैच खत्म होने के बाद, हॉग, सचिन के पास, उनके उसी दिन के तस्वीर पर ऑटोग्राफ लेने पंहुच गए और तस्वीर के ऊपर ऑटोग्राफ देने की गुजारिश की।

बड़ी ही सादगी के साथ सचिन ने अपना ऑटोग्राफ हॉग को देते हुए साथ में एक मैसेज भी लिख दिया, मैसेज में उन्होंने लिखा, “यह फिर कभी दोबारा नहीं होगा हॉग।” और सचिन ने जो लिखा, वो अक्षरशः सच हुआ। उस मैच के बाद फिर कभी किसी मैच में ब्रैड हॉग, सचिन का विकेट नहीं ले पाएं और वो ऑटोग्राफ हॉग के लिए एक प्रेरणा सूत्र बनके रह गया कि यदि कोई ठान लें तो दुनिया की कोई ताकत उसके द्वारा दिए हुए वचन को तोड़ नहीं सकता।

लेकिन हॉग के लिए तो सचिन के साथ, एक मैदान में खेलना भी बड़ी बात थी , हॉग के अनुसार सचिन के साथ एक मैदान में खेलना और उन्हें गेंदबाजी करना उनके लिए बहुत सम्मान और गर्व की बात रही । वो ऑटोग्राफ हॉग के लिए एक क़ीमती धरोहर है जिसे वो बहुत संभाल कर और सहेज कर रखते हैं।

★सुलेना मजुमदार अरोरा★