Travel: भारत की सबसे बड़ी मीनार है कुतुब मीनार

कुतुब मीनार, 75.5 मीटर ऊँची भारत की सबसे बड़ी मीनार है और मोहाली की फतेह बुर्ज के बाद भारत की दूसरी सबसे बड़ी मीनार है। प्राचीन काल से ही कुतुब मीनार का इतिहास चलता आ रहा है।

By Lotpot Kids
New Update
Qutub Minar

भारत की सबसे बड़ी मीनार है कुतुब मीनार

Travel भारत की सबसे बड़ी मीनार है कुतुब मीनार:- कुतुब मीनार, 75.5 मीटर ऊँची भारत की सबसे बड़ी मीनार है और मोहाली की फतेह बुर्ज के बाद भारत की दूसरी सबसे बड़ी मीनार है। प्राचीन काल से ही कुतुब मीनार का इतिहास चलता आ रहा है, कुतुब मीनार का आस-पास का परिसर कुतुब कॉम्प्लेक्स से घिरा हुआ है, जो एक वल्र्ड हेरिटेज साईट भी है। कुतुब मीनार दिल्ली के महरौली बाग में स्थापित है। (Travel)

यह मीनार लाल पत्थर और मार्बल से बनी हुई है, कुतुब मीनार 72.5 मीटर (237.8 फीट) ऊँची है जिसका डायमीटर 14.32 मीटर (47 फीट) तल से और 2.75 मीटर (9 फीट) चोटी से है। मीनार के अंदर गोल सीढ़ियाँ हैं, ऊँचाई तक कुल 379 सीढ़ियाँ हैं। (Travel)

Qutub Minar

कुतुब मीनार का निर्माण कार्य कुतुब-उद-दीन ऐबक ने 1199 में शुरू किया था...

कुतुब मीनार का निर्माण कार्य कुतुब-उद-दीन ऐबक ने 1199 में शुरू किया था, जो उस समय दिल्ली सल्तनत के संस्थापक थे। कुतुब मीनार को पूरा करने के लिये उत्तराधिकारी ऐबक ने उसमे तीन और मीनारें बनवायी थीं।

कुव्वत-उल-इस्लाम मस्जिद भी कुतुब मीनार के उत्तर में ही स्थापित है, जिसे कुतुब-उद-दीन ऐबक ने 1192 में बनवाया था। भारतीय उपमहाद्वीप की यह काफी प्राचीन मस्जिद मानी जाती है। लेकिन कुछ समय बाद इल्तुतमिश (1210-35) और अला-उद-दीन खिलजी ने मस्जिद का विकास किया। (Travel)

Qutub Minar

1) कुतुब मीनार को सबसे ऊँचे गुम्बद वाली मीनार माना जाता है:

कुतुब मीनार की छठी मंजिल को 1848 में निचे ले लिया गया था लेकिन बाद में इसे कुतुब कॉम्प्लेक्स में ही दो अलग-अलग जगहों पर स्थापित किया गया था। आज इसे बने 100 साल से भी ज्यादा का समय हो चुका है। (Travel)

2) इल्तुतमिश की न दिखाई देने वाली कब्र:

इल्तुतमिश की कब्र के पीछे भी एक रहस्य है, जो 1235 में बनी थी और वही इल्तुतमिश की वास्तविक कब्र है। इस रहस्य को 1914 में खोजा गया था।

3) यदि एक मीनार बन जाये तो वह कुतुब मीनार से भी बड़ी होगी:

अलाई मीनार (शुरुवात 1311) यह मीनार कुतुब मीनार से भी ज्यादा ऊँची, बड़ी और विशाल होती। 1316 में अला-उद-दीन खिलजी की मृत्यु हो गयी थी और तभी से अलाई मीनार का काम रुका हुआ है। (Travel)

4) आज की नयी धरोहर तकरीबन 500 साल पुरानी है:

इमाम जामिन की कब्र दूसरे मुगल शासक हुमायूँ ने 1538 में बनवायी थी, और कुतुब मीनार कॉम्प्लेक्स में यह सबसे नयी धरोहर है। (Travel)

Qutub Minar

5) आप आज भी कुतुब मीनार की छठी मंजिल तक जा सकते हो:

आज भी किसी को भी कुतुब मीनार की सबसे ऊपरी मंजिल पर नही जाने दिया जाता, लेकिन आज भी आप कुतुब मीनार की छठी मंजिल तक जा सकते हो।

शायद आप कंफ्यूज हो रहे हो? कुतुब मीनार के एक कोने में छठी मीनार है, जो 1848 में लाल पत्थरो से बनी हुई है। लेकिन फिर थोड़ी खराब दिखने की वजह से उसे हटा दिया गया था। (Travel)

lotpot-e-comics | travel-destinations-india | travel-places-in-india | Delhi tourism | Qutub Minar | Facts about Qutub Minar | Qutbu'd-Din Aibak | लोटपोट | lottpott-i-konmiks | ट्रेवल दिल्ली

यह भी पढ़ें:-

Travel: एक हिंदूराष्ट्र है नेपाल

Travel: अरुणाचल प्रदेश का हिल स्टेशन फोरगेटन लैंड

Travel: एशिया का दूसरा सबसे बड़ा और आबादी वाला गाँव है कोहिमा

गोवा की हिप्पी राजधानी है अरंबोल