Category "Lotpot Personality"

16Jan2020

इन्होने वह दो शब्द दिए थे, जिस पर हम सभी को गर्व हैं ‘जय हिन्द’
यह भारतीय लोक सेवा परीक्षा के टाॅपर थे। उन्होंने अपनी इस उपलब्धि के लिए अपने पिता का शुक्रिया अदा किया था जिन्होंने उन्हें बुद्धिमान और देशभक्त बनने के लिए प्रेरित किया था। इस परीक्षा में उनका चौथा स्थान आया था।
कहा जाता हैं कि उनकी मृत्यु ताइवान के एक हवाई हादसे में हुई थी। कुछ लोगों ने कहा था कि वह रूस चले गए है लेकिन दोनों बातों में से कुछ भी सच नहीं साबित हुआ।

3Jan2020

स्वामी विवेकानंद भारतीय सन्यासी थे। वह विश्व में हिन्दू धर्म की जागरूकता फैलाने और वेदांत और योग की फिलाॅसफी का प्रचार करने के लिए मशहूर है।
स्वामी विवेकानंद का असली नाम नरेन्द्रनाथ दत्ता था। उनका जन्म अमीर बंगाली परिवार में 12 जनवरी 1863 में हुआ था। उस समय भारत पर अंग्रेजो का राज था और कलकत्ता भारत की राजधानी थी। उनके पिता विश्वनाथ दत्ता कलकत्ता हाई कोर्ट के अटाॅर्नी थे और उनकी माँ घर संभालती थी।