Bal Kavita: जाड़े में भी

By Lotpot Kids
New Update
garden cartoon image

जाड़े में भी

जाड़े में भी

चलकर देखो जाड़े में भी,
बागीचों की ऊँची शान।

प्यारे-प्यारे फूल लुटाते,
खुल खुलकर मीठी मुस्कान।

बिना कोट या स्वेटर पहने,
तितली उड़ती इधर-उधर।

अपने मनोहर पंख हिलाकर,
पीती है रस छक छककर।

भौरों का गुंजार दूर तक,
पड़ता खूब सुनाई है।

लगता, हर पौधे पर, भैया,
खुशी सहज लहरायी है।

lotpot-e-comics | hindi-bal-kavita | manoranjak-bal-kavita | kids-poem-in-hindi | kids-poem | kids-hindi-rhymes | hindi-rhymes | kids-hindi-poems | लोटपोट | lottpott-i-konmiks | hindii-baal-kvitaa | baal-kvitaa | बच्चों की कविता | bccon-kii-mnornjk-kvitaa

यह भी पढ़ें:-

Bal Kavita: भारत की शान बढाएंगे

Bal Kavita: बच्चे हम

Bal Kavita: चूहों की शैतानी

Bal Kavita: शेर की मौसी