Bal Kavita: टी.वी.

By Lotpot Kids
New Update
Kids watching TV cartoon image

टी.वी.

बच्चों के मन भाता टी.वी.

देश विदेश घुमाता टी.वी.।

 

रूस, चीन, अमरीका सबकी,

खबरें हमें सुनाता टी.वी.।

 

बच्चे बूढ़े, युवा सभी का,

अभिनव ज्ञान बढ़ाता टी.वी.।

 

कभी दिखाता सर्कस हमको,

नाटक कभी दिखाता टी.वी.।

 

कभी दिखाता चित्रहार तो,

कभी मैच दिखलाता टी.वी.।

 

टी.वी. कहता हम बच्चों से,

सुनो खोलकर कान।

 

यदि मुझको ज़्यादा देखोगे,

तो होगा हरदम नुकसान।।

lotpot-e-comics | kids-poem | entertaining-kids-poem | लोटपोट | baal-kvitaa | bccon-kii-kvitaa

यह भी पढ़ें:- 

Bal Kavita: दस रूपए की कुल्फी

Bal Kavita: चन्दा मामा

Bal Kavita: मेरा घोड़ा

Bal Kavita: विजय दिवस की कविता