Bal Kavita: चिड़िया रानी

By Lotpot Kids
New Update
Birds cartoon image

चिड़िया रानी

चिड़िया रानी

नित्य नियम से चिड़िया रानी,
बड़े सवेरे आती है।

चीं ची चीं ची शोर मचा कर,
हमको सदा जगाती है।

घास-फूस के तिनके चुनकर,
अपना नीड़ बनाती है।

एक एक दाना ले जा कर,
नन्हा जीव चुगाती है।

कभी फुदकती है आंगन में,
कभी पेड़ पर गाती है।

कभी खेलती है पानी में,
कभी फुर्र उड़ जाती है।

सारा दिन मेहनत करती है,
शाम ढले घर आती है। 

और रात होने के पहले,
झट से वह सो जाती है।

बच्चों प्यारी चिड़िया रानो,
हमको यह सिखलाती है।

उठो सवेरे और करो श्रम,
प्रगति इसी से आती है।

lotpot-e-comics | hindi-bal-kavita | manoranjak-bal-kavita | kids-hindi-poem | hindi-kavita | kids-rhymes | kids-hindi-rhymes | hindi-rhymes | hindi-rhymes-for-kids | लोटपोट | lottpott-i-konmiks | hindii-baal-kvitaa | baal-kvitaa

यह भी पढ़ें:-

Bal Kavita: नई सुबह

Bal Kavita: मेंढक मामा

Bal Kavita: क्रिकेट

Bal Kavita: सरपंच महोदय