Bal Kavita: मेंढक मामा

By Lotpot Kids
New Update
Frog with a kid cartoon image

मेंढक मामा

मेंढक मामा

मेंढक मामा, खेल रहे क्यों पानी में,
पड़ जाना बीमार कहीं मत वर्षा की मनमानी में।

मेंढक मामा मेढक मामा, नभ में बादल छाए हैं,
इसीलिए क्या टर्र-टर्र के स्वागत गीत सुनाए हैं।

मेंढक मामा, उछलो-कूदो बड़े गजब की चाल है,
हँसते-हँसते मछली जी का हाल हुआ बेहाल है।

मेंढक मामा बतलाओ, कब तक शहर जाओगे,
रेन कोट सिलाओ, फिर हीरो बन जाओगे।

lotpot-e-comics | hindi-bal-kavita | manoranjak-bal-kavita | hindi-kavita | hindi-poem | kids-poem-in-hindi | kids-rhymes | लोटपोट | lottpott-i-konmiks | hindii-baal-kvitaa | baal-kvitaa

यह भी पढ़ें:-

Bal Kavita: सीखो क्रिकेट

Bal Kavita: जनवरी आ गई

Bal Kavita: बहाना

Bal Kavita: बच्चों को प्यारा तोता