Bal kavita: पुस्तक

By Lotpot Kids
New Update
World inside a book cartoon image

पुस्तक

पुस्तक

ज्ञान भरा अंबर है पुस्तका,
विश्व सोच की सार है पुस्तक।

जीवन-पथ के अंधकार में,
ज्योति की उदगार है पुस्तक।

नौलौ-पीली जिल्दों में तो,
लगती राजकुमार है पुस्तक।

लेलो, ले लो, चुन्नु -मुन्नु,
सब आयु में यार है पुस्तक।

lotpot | lotpot-e-comics | hindi-bal-kavita | manoranjak-bal-kavita | bal-kavita | hindi-kavita | kids-hindi-rhymes | kids hindi poems | लोटपोट | lottpott-i-konmiks | hindii-baal-kvitaa | baal-kvitaa | hindii-kvitaa

यह भी पढ़ें:- 

Bal Kavita: मेंढक मामा

Bal Kavita: भालू हुआ वकील

Bal Kavita: बगिया

Bal Kavita: मेले में