Bal Kavita: मौसम

By Lotpot Kids
New Update
Two kids in rain with umbrella cartoon image

मौसम

मौसम

वर्षा थी कल,
आज ठंड है।

नए रंग दिखलाता मौसम,
कभी न थकता। 

चलता रहता,
परिवर्तन नित लाता मौसम।

सज धज कर,
आता बसन्त है।

दूल्हे सा बन जाता मौसम,
गर्मी में सच।

गड़बड़ करता,
सबको खूब सताता मौसम।

कभी महकता,
कभी नाचता।

बच्चों सा बन जाता मौसम,
बिना भेद के।

खुशी बांटता,
सबके मन को भाता मौसम।

lotpot-e-comics | hindi-bal-kavita | kids-poem-in-hindi | entertaining-kids-poem | hindi-kids-poem | kids-poem | kids-rhymes | hindi-rhymes | hindi-rhymes-for-kids | kids-hindi-rhymes | लोटपोट | lottpott-i-konmiks | hindii-baal-kvitaa | baal-kvitaa

यह भी पढ़ें:-

Bal Kavita: सागर महिमा

Bal Kavita: खुश हो जाते बंदर जी

Bal Kavita: मेंढक मामा

Bal Kavita: मौनी बाबा