स्पीकर और मैसेज से करें मोबाइल पर बात?

स्पीकर और मैसेज से करे मोबाइल पर बात और मोबाइल को कान से लगातार सटा कर बात करने से रेडिएशन का खतरा हैं। इससे निकलने वाले रेडिएशन ब्रेन में मौजूद टिश्यू को डैमेज कर सकते हैं। इससे बेहतर हैं कि मोबाइल फोन से बात करने के लिए मैसेज या स्पीकर का प्रयोग करें। ईयर फोन का इस्तेमाल या फिर लैंडलाइन का इस्तेमाल रेडिएशन से बचने के लिए किया जाए  तो अधिक बेहतर रहेगा। यह कहना है आईएमए के नेशनल प्रेसिडेंट डाॅक्टर के. के. अग्रवाल का। वह कहते हैं कि ऐसी जगह मोबाइल फोन का इस्तेमाल घातक ह¨ सकता हैं जहा कम नेटवर्किंग है। ऐसे बेहतर नेटवर्क के लिए मोबाइल सेट अधिक ट्रांसमिशन पावर का इस्तेमाल करते हैं इसकी वजह से रेडिएशन अधिक निकलता हैं।

रेडिएशन के खतरे में रहते हैं मोबाइल टावर के पास रहने वाले लोग

डाक्टर के.के. अग्रवाल ने बताया कि ऐसे जगह मोबाइल टावर के पास रहते हैं वह हमेशा रेडिएशन की चपेट में आ जाते हैं। मोबाइल को में कनेक्ट करने के लिए रेडियोफ्रीक्वेंसी रेडिएशन का सहारा लेते हैं। हालाकि म¨बाइल हैडंसेट और बीटीएस या सेल्यूलर फ़ोन टावर  पावर रेडिएशन का इस्तेमाल करते हैं लेकिन इनका लगातार इस्तेमाल शरीर की बीमार करने के लिए काफी हैं। वल्र्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन ने वर्ष 2012 में रेडियोफ्रीक्वेंसी रेडिएशन को मानव शरीर में कैंसर सेल पैदा करने वाले कारकों के लिए जिम्मेदार ठहराया था।

क्या है एसएआर

स्पेसिफिक अवशेशंस रेट (एसएआर) मोबाइल फोन से दिमाग दोहरा रेडिएशन को अपने में खीचने की मात्रा हैं। यह हर मोबाइल फोन के पीछे अंकित रहती हैं। एक तय समय में मोबाइल फोन से तरंग के खींचने की मात्रा हैं। क¨शिश करनी चाहिए कि कम से कम मात्रा वाले एसएआर म¨बाइल का इस्तेमाल किया जाए।

मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते वक्त यह सावधानियां बरतें

1 मोबाइल खरीदते वक्त कम स्पेसिफिक अवशेशंस रेट (एसएआर) का ख्याल रखे।

2 प्रेगनेन्ट महिलाओं को मोबाइल फोन का इस्तेमाल कम करना चाहिए।

3 शरीर के आंतरिक विभाग जैसे ब्रेस्ट, आँखे, टेस्टिकल जैसे हिस्सों को मोबाइल से दूर रखे।

4 सोते वक्त मोबाइल फोन अपने से 1.5 मीटर दूर रखें।

5 मोबाइल फोन से बात करने वक्त खिड़की के पास खड़े रहे। बंद कमरे में म¨बाइल का इस्तेमाल ना करे।

यहाँ भी बरतें सावधानियां

1 इमप्लांट वाले मरीज को इमप्लांट जगह से मोबाइल फोन 15 सेमी दूर रखना चाहिए।

2 मेटल का चश्मा पहनकर बाल जब गीले हों तो मोबाइल फोन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

3 जेब में मोबाइल रखकर ऑफिस में काम न करें।

और पढ़ें : 

अगर आपको हैं लंबे संमय से है सर्दी-जुकाम तो अपनाएं ये आसान उपाय

बच्चों में मुँह की गंदी बदबू के कारण और समाधान

गर्मियों में झुलसती गर्मी से जूझने के कुछ टिप्स