बाल कविता: माँ की ममता

By Lotpot
New Update
Mother with kids

माँ की ममता

 

जब मैं छोटी बच्ची थी
माँ की प्यारी दुलारी थी


माँ तो हमको दूध पिलाती,
माँ भी कितनी भोली-भाली।


माखन- मिश्री घोल खिलाती
बड़े मज़े से गोद में सुलाती,


माँ तो कितनी अच्छी है
सारी दुनिया उसमें है।

ऐसी और कवितायें पढ़ें:-

टी.वी.

बाल कविता: गर्मी आई

बाल कविता : चुहिया रानी

बाल कविता: तारे